Districts

Uttarakhand is mainly separated into two regions, 1st is Garhwal Mandal and 2nd is Kumaon Mandal , consisting of 13 Districts. The districts under Garhwal region are Chamoli, Dehradun, Haridwar, Pauri Garhwal, Tehri Garhwal, Rudraprayag and Uttarkashi, whereas Almora, Champawat, Bageshwar, Pithoragarh, Udham Singh Nagar and Nainital come under the Kumaon region

Kotdwar A Gateway Of Garhwal

Kotdwar

कोटद्वार (Kotdwar) यह उत्तराखंड का महत्वपूर्ण शहर है, कोटद्वार को गढ़वाल के प्रवेश द्वार (Kotdwar A Gateway Of Garhwal) और पौड़ी जिले का सबसे बड़ा शहर के रूप में जाना जाता है। इसके नाम का अर्थ होता है– कोट या पहाड़ी तथा द्वार अर्थात् “पहाड़ियों का द्वार”। प्रभावस्वरूप यह गढ़वाल की पहाड़ियों का प्रवेश द्वार …

Kotdwar A Gateway Of Garhwal Read More »

Panch Badri 5 Temples Of Lord Vishnu

Panch Badri

भगवान शिव के पंच केदार की तरह भगवान विष्णु के 5 धाम ( 5 Temples Of Lord Vishnu )  हैं, जिन्हें पंच बदरी ( Panch Badri ) के नाम से जाना जाता है। पंच बद्री में अलग-अलग रूपों में भगवान विष्णु की पूजा की जाती है। विशाल बद्री (बद्रीनाथ), योगदर्शन बद्री, भव्य बद्री, वृद्धा बद्री और …

Panch Badri 5 Temples Of Lord Vishnu Read More »

Draupadi Temple Mana india’s last village

Mana village

माणा गांव (Mana Village) स्थित द्रौपदी मन्दिर (Draupadi Temple) : यह मन्दिर माणा गांव ( Mana india’s last village ) में बहुत पुरातन काल से है जो कि माणा गांव के रावत जाति के लोगों से सम्बंधित है जिसमें बाला त्रिपुर सुन्दरी जी विराजमान हैं लेकिन वर्तमान में इस मन्दिर को द्रौपदी मन्दिर के नाम …

Draupadi Temple Mana india’s last village Read More »

Pithoragarh History And Culture

Pithoragarh

पिथौरागढ़ ( Pithoragarh) उत्तराखण्ड राज्य का एक प्रमुख शहर और कुमाऊं मंडल में स्थित एक जिला है। यह समुद्र तल से 1645 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। पिथौरागढ़ जिले के उत्तर में तिब्बत, पूर्व में नेपाल, दक्षिण एवं दक्षिण-पूर्व में अल्मोड़ा, एवं उत्तर-पश्चिम में चमोली ज़िले पड़ते हैं | पिथौरागढ़ का पुराना नाम सोरघाटी …

Pithoragarh History And Culture Read More »

Devprayag Confluence of Alaknanda and Bhagirathi River

Devprayag

देवप्रयाग (Devprayag) उत्तराखंड के सभी शहरों का स्वयं का एक इतिहास है, इसी क्रम में देवप्रयाग (Devprayag) शहर का भी अपना एक अलग और अनोखा इतिहास है। ऋषिकेश (Rishikesh) से 70 किमी दूर स्थित देवप्रयाग नगर ने आधुनिक युग में भी अपने पुराने वैभव को नहीं खोया। देवप्रयाग उत्तराखण्ड राज्य के टिहरी जिले में स्थित …

Devprayag Confluence of Alaknanda and Bhagirathi River Read More »