Bageshwar

Pakhwa Top Beautiful Trek of Bageshwar

पखुवा टॉप / पखुवा बुग्याल (Pakhwa Top/Pakhwa Bugyal) उत्तराखंड में सबसे सुंदर ट्रेक (Beautiful trek in Uttarakhand) स्थानों में से एक है जो कुमाऊं मंडल के हिमालय में बसे बागेश्वर जिले (Bageshwar) में स्थित है। पखुवा टॉप (Pakhwa Top) का शानदार सफर बागेश्वर जिले के पतियारसार गावं से शुरू होता है।

पखुवा टॉप (Pakhwa Top) हिमालय का ऐसा स्थान, जहां पहुंचने पर आपका स्वागत बर्फानी हवा से होता है। यहाँ घास का मैदान भी है और अगर आसमान खुला हो तो फिर धरती- आकाश की “अठखेलियां’ भी आपको महसूस होंगी। यहाँ की हिम शृंखलाएँ चांदी की तरह चमकमी हैं। बर्फीले चट्टानें खिलखिलाती हैं और पखुवा टॉप (Pakhwa Top में प्रकृति का वह आभामंडल देता है सुकून।

पखुवा टॉप बागेश्वर का खूबसूरत ट्रेक (Pakhwa Top Beautiful trek of Bageshwar)

उत्तराखंड (uttarakhand) के कुमाऊं मंडल में हिमालय में सबसे बड़ी अल्पाइन घास के मैदानों का बागेश्वर जिले (Bageshwar) का पखुवा टॉप (Pakhwa Top) एक खूबसूरत ट्रेक है। यह ट्रेक ऊँचे हिमालय पर्वतमाला जैसे: नंदा देवी, नंदा कोट, पंचाचूली चोटियां आदि का एक अद्भुत मनोरम दृश्य देता है।

Pakhwa Top Beautiful Trek of Bageshwar
Pakhwa Top Beautiful Trek of Bageshwar

पखुवा टॉप (Pakhwa Top) के लिए ट्रेक कई एकान्त स्थानों से होकर गुजरता है, खूबसूरत और सुगंधित महक वाले जंगली फूलों के पौधों के साथ हरे-भरे घाटियों, बुग्यालों, झरनों और जंगलों और विभिन्न परिदृश्यों में बस हर खोजकर्ता और घूमे वालों की कल्पना करने वाले को यह अद्भुत और रोमांचकारी ट्रेक अपने और आकर्षित करती है।

Must read >> : Amazing Beauty of Sunderdhunga Ghati

खलझूनी, कपकोट तहसील में उत्तराखण्ड (uttarakhand) राज्य के अन्तर्गत कुमाऊँ मण्डल के बागेश्वर जिले (Bageshwar) का एक गाँव है। यहाँ बंगाली बाबा की कुटिया में आपको थकावट के बीच कूछ पल अराम के लिए मिलेगी। यहां से हिमालय का विहंगम दृश्य देखा जा सकता है। यहाँ से खूबसूरत अद्भुत नजारों वाले पिंडर घाटी के द्वाली, फुरकिवा आदि के दीदार भी होते हैं। इसके ठीक पीछे की तरफ सरयू घाटी है।

उत्तराखंड कुमाऊँ मण्डल के बागेश्वर जिले (Bageshwar) के गाँव लाहुर, मिकिला, खलपट्टा, ग्यासी, सूपी, तलाई आदि गांवों के जीवन और संस्कृति से भी आपको रूबरू होने का मौका मिलेगा। यहाँ के बाखली वाले गांव और पहाड़ों के बीच में बने घर किसी अद्भुत दृश्या जैसे लगते हैं।

शहरों की चकाचौंध से दूर बागेश्वर जिले के इन खूबसूरत गांवों का जीवन अभावों के बावजूद कितना जीवंत और कितना समृद्ध है, यह नजर आखों देखते ही बन आएगा। इन घरों तक जाने वाले रास्ते काफी संकरे और चट्टानों से होकर जाते हैं। इसके अलावा यहां बसे लोगों द्वारा कहे जाने वाले शिखर, शामा की पहाड़ी भी यहां से साफ दिखाई देती है। यहां पहुंचने पर जो आनंद मिलेगा उसके लिए शायद ही किसी साहसिक पर्यटक के पास शब्द होंगे। आपको पखुवा टॉप के बुग्वालों में घास, तरह- तरह के नाना प्रकार के फूल मंत्रमुग्ध कर देंगे। …तो फिर देर किस बात की। आप भी चले आइए कभी पखुका टॉप।

वन्यजीवों के दीदार और जड़ी-बूटी का अपार भंडार है पखुवा टॉप (Pakhwa Top Bageshwar is an immense store of wildlife and herbs)

बागेश्वर जिले का खूबसूरत पखुवा टॉप (Pakhwa Top) से ग्लेशियरों की तरफ बढ़ने पर जड़ी-बूटी का अपार भंडार देखने को मिलते है। कुटकी, अतीस, चिरायता, डोलो, छिपी के अलावा मोनाल, कस्तूरी मृग, भरण, हिरन, भालू आदि वन्यजीव भी यहां देखने को मिलते है | पखुवा टॉप (Pakhwa Top) इलाके तक सफर पूरा होने के बाद यहां के हर तरफ प्रकृति की अपार खूबसूरती के दर्शन किए जा सकते हैं।

पखुवा टॉप से पिंडरी घाटी और कफनी घाटी का रास्ता (Path from Pakhwa Top to Dindori Valley and Kafan Valley)

पखुवा टॉप (Pakhwa Top) से एक रास्ता सरयू नदी का उदगम सरमूल घाटी की तरफ जाता है। सरमूल एक रमणीक स्थल है और यहां से सरमूल घाटी की दूरी करीब चार किमी है। यह रास्ता काफी संकरा और चट्टानों से होकर गुजरता है। पर्वतारोही अक्सर इस रास्ते का इस्तेमाल करते हैं। पखुवा टॉप से देवीकुंड की दूरी करीब तीन किमी पर पड़ती है और यहां पहुंचने के लिए खड़ी चढ़ाई चढ़नी पड़ती है। यहां से नीचे की तरफ उतरते हुए दाई और कफनी जाने वाला रास्ता है।

Pakhwa Top trek of Bageshwar
Pakhwa Top trek of Bageshwar

3800 मीटर की ऊंचाई पर स्थित कफनी ग्लेशियर जाने के लिए सिर्फ छह किमी की दूरी तय करनी होती है। नंदा भार रेंज की तलहटी से कफनी ग्लेशियर तक पंहुचा जा सकता है। वहीं, फुरकिया से पिंडरी घाटी की तरफ भी यहां से होकर रास्ता जाता है।

बागेश्वर का खूबसूरत ट्रेक पखुवा टॉप कैसे पहुंचे (How to reach Bageshwar’s Beautiful trek Pakhwa Top)

सुंदर और अद्भुत नजारों वाले “पखुवा टॉप” (Pakhwa Top) का साहसिक यात्रा के लिए आपको सबसे पहले बागेश्वर (Bageshwar) आना पड़ेगा। जिला मुख्यालय से इस टॉप तक पहुंचने के लिए टैक्सी से 37 किमी दूर सौंग जाना होता है। फिर पांच किमी की दूरी पर मुनार और आठ किमी पर पतियारसार है। पतियारसार से झूनी तक करीब दो किमी और खलझूनी तक चार किमी पैदल यात्रा तय करनी होते है। खलझूनी से साढ़े तीन किमी की खड़ी चढ़ाई पर पखुवा टॉप (Pakhwa Top) है। इस टॉप की ऊंचाई समुद्र ताल से करीब तीन हजार मीटर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: